प्रशिक्षुता (Internship) क्या है एवं क्या है इसके फायदे?

प्रशिक्षुता या इंटर्नशिप एक आधिकारिक कार्यक्रम है, जो नियोक्ता (Employer) द्वारा संभावित कर्मचारियों को पेश किया जाता है। प्रशिक्षुता की आधुनिक अवधारणा मध्ययुगीन शिक्षुता से विकसित हुई है, जहां एक कुशल मजदूर, अक्सर एक शिल्पकार, एक युवा व्यक्ति को अपना व्यापार सिखाएगा, एवं काम करने का ढंग बताएगा। बदले में वह व्यक्ति प्रशिक्षु कारीगर के लिए निर्दिष्ट समय के लिए काम करने के लिए सहमत होगा।

इसको हम ऐसे भी समझ सकते है की एक इंटर्न निर्दिष्ट समय के लिए कंपनी में अंशकालिक या पूर्णकालिक तौर पर काम कर सकता है। आमतौर पर, इंटर्न कई महीनों तक काम करेंगे। इंटर्नशिप स्नातक या स्नातक छात्रों के साथ बहुत लोकप्रिय है, जिन्हें मूल्यवान कार्य या अनुसंधान अनुभव प्राप्त करने की आवश्यकता है।

इंटर्नशिप डिजिटल मार्केटिंग डिग्री, हेल्थकेयर प्रोग्राम, पैरालीगल सर्टिफिकेट और कई अन्य करियर विकल्पों के लिए पाई जा सकती है।

प्रशिक्षुता या इंटर्नशिप दो प्रकार की होती है। पहले प्रकार की इंटर्नशिप में आपको काम करने के लिए कुछ इंसेंटिव या रूपए दिए जाते है, इस इंटरशिप में आप काम सीख भी सकते है, एवं पैसे भी कमा सकते है। दूसरे प्रकार की इंटर्नशिप में आपसे इंटर्नशिप करने के पैसे लिए जाते है। इसमें आप पैसे देकर काम कर सकते है एवं अपनी प्रतिभाओ को निखार सकते है ।

प्रशिक्षुता या इंटर्नशिप के फायदे:

1: – कार्य अनुभव प्राप्त करें:

प्रशिक्षुता करने में आपको जो अनुभव प्राप्त होता है, वह काफी उपयोगी और अमूल्य होता है और इसे कक्षा की सेटिंग में प्राप्त नहीं किया जा सकता है। यह इंटर्नशिप के सबसे महत्वपूर्ण लाभों में से एक है। इंटर्न के पास वास्तविक कार्य अनुभव के लिए अर्जित ज्ञान को लागू करने का अवसर है, जो पहले से ही दिन-प्रतिदिन की नौकरी के कर्तव्यों का साक्षी है।

2:- अपने आपको नौकरी के बाजार में बढ़त दें:

सबसे महत्वपूर्ण इंटर्नशिप लाभों में से एक यह है कि कॉलेज के स्नातक (UG) में जिनके पास पहले से ही इंटर्नशिप का अनुभव है, उन्हें प्राथमिकता मिलती है। आपको उन लोगों की तुलना में अधिक शुरुआती वेतन भी मिल सकता है, जिनके पास इंटर्नशिप का अनुभव नहीं है और वे कार्यबल में प्रवेश कर रहे हैं या एक नया कैरियर शुरू कर रहे हैं।

3:- कैरियर मार्ग का अन्वेषण करें:

तलाश करना या किसी मार्ग का अन्वेषण करना कॉलेज के अनुभव का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, और इंटर्नशिप छात्रों के लिए खुद को परिचित करने का एक शानदार तरीका है, जिसमें वे रुचि रखते हैं। कुछ छात्र कॉलेज को एक प्रमुख या कैरियर मार्ग को ध्यान में रखते हुए शुरू करते हैं, और बाद में अपने दिमाग को बदलते हैं। कॉलेज में रहते हुए इंटर्नशिप पर ले जाना, छात्रों को उनके इच्छित क्षेत्र में काम करने की अनुमति देता है, जिससे उन्हें यह तय करने में मदद मिलती है कि क्या क्षेत्र उनके लिए सही है।

4:- विश्वास हासिल होता है:

प्रशिक्षुता या इंटर्नशिप आपको कामकाजी दुनिया में प्रवेश करने से पहले कक्षा में सीखी गई विशिष्ट तकनीकों का परीक्षण करने की अनुमति देता है। यह एक ऐसा अवसर है, जो आपने एक सुरक्षित वातावरण में सीखा है, जहां गलतियों की उम्मीद की जाती है – जिनसे आप सीख सकते है। इसी से आपका किसी नयी जॉब में विश्वास (Confidence) बढ़ता है।

तो दोस्तों अगर आपको इंटर्नशिप से सम्बंधित और कोई जानकारी चाहिए तो कमेंट में जरूर बताये।

धन्यवाद

Career Bhaskar: